July 13, 2024

राष्ट्र की परम्परा

हिन्दी दैनिक-मुद्द्दे जनहित के

नए कानून में डिजिटल तकनीकों का व्यापक समावेश: एडीजे

न्याय व्यवस्था में शिक्षकों की भूमिका महत्त्वपूर्ण

प्राथमिक विद्यालय बूधा में आयोजित हुआ विधिक साक्षरता शिविर

संत कबीर नगर (राष्ट्र की परम्परा)। प्राथमिक विद्यालय बूधा में आयोजित विधिक साक्षरता शिविर में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव व अपर जिला जज महेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि नए कानून में महज दिखावटी अपडेट नही किया गया है। एक ऐतिहासिक कदम के तहत महत्त्वपूर्ण कानून लागू करके न्याय प्रणाली में व्यापक बदलाव हुआ है।
उन्होंने कहा कि डिजिटलीकरण व आधुनिकीकरण नए कोड की खास विशेषता है। उन्होंने कहा कि अब डिजिटल चोरी और पहचान धोखाधड़ी के लिए विधिवत प्रावधान किए गए है।
लीगल एड डिफेंस काउंसिल के चीफ अन्जय कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि नए भारतीय न्याय संहिता में कई उभरते हुए अपराधों को संबोधित किया गया है। साइबर अपराध पर काफी ध्यान दिया गया है। उन्होंने प्राधिकरण के द्वारा प्रदान किए जा रहे विभिन्न सुविधाओं के बारे में विस्तार से चर्चा किया।
असिस्टेंट लीगल एड डिफेंस काउंसिल मो.दानिश व प्रज्ञा श्रीवास्तव ने जीरो एफआईआर तथा महिलाओं व बच्चों के साथ हुए अपराध पर बने कानून के बारे में बताया।
कार्यक्रम में असनहरा प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक मो. अशरफ अली, बृजेश गौतम, निशा शुक्ला, सुनीता राय, छाया जायसवाल समेत अन्य शिक्षकों ने विभिन्न प्रश्न पूछकर अपने जिज्ञासाओं को शांत किया।
इस अवसर पर अपर बेसिक शिक्षा अधिकारी आशीष कुमार सिंह, पिपरा गौतम के शिक्षक कृष्णकांत मिश्रा, विजय शंकर सिंह, शबाना खातून, नम्रता दुबे, शुभ्रा श्रीवास्तव, शीला कुमारी, सरिता चौधरी, शिखा गौतम, बिरेंद्र कुमार, महेश कुमार सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।