July 16, 2024

राष्ट्र की परम्परा

हिन्दी दैनिक-मुद्द्दे जनहित के

मऊ रेलवे स्टेशन का किया जा रहा है पुनर्विकास

वाराणसी(राष्ट्र की परम्परा)l अमृत स्टेशन योजना के अंतर्गत पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मंड़ल पर वाराणसी -गोरखपुर रेल खण्ड़ पर स्थित मऊ जं रेलवे स्टेशन को रु. 48.98 करोड़ की लागत से पुनर्विकसित किया जा रहा है । मऊ जंक्शन रेलवे स्टेशन उत्तर प्रदेश राज्य के मऊ शहर में स्थित एक जंक्शन स्टेशन है। यह स्टेशन प्रयागराज-वाराणसी-गोरखपुर मुख्य लाइन पर पड़ता है, जो आजमगढ़ रेल रूट से सीधे तथा बलिया से वाया इंदारा,रसड़ा-फेफना कनेक्टेड है । यह पुर्वान्चल क्षेत्र का एक महत्वपूर्ण स्टेशन जो नई दिल्ली, मुंबई, सूरत, अहमदाबाद, कोलकाता, पुणे, लखनऊ, अलीगढ़, कानपुर, प्रयागराज, जयपुर, रांची, वाराणसी आदि जैसे भारत के प्रमुख शहरों से रेल रूट के माध्यम से जुड़ा हुआ है ।
मऊ जं रेलवे स्टेशन वाराणसी से लगभग 93 किमी दूर स्थित है। स्टेशन कोड MAU है. मऊ जं. पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मंडल के अंतर्गत एनएसजी-3 श्रेणी का स्टेशन है । मऊ स्टेशन पर 03 अदद प्लेटफार्म हैं । मऊ स्टेशन से मऊ-लोकमान्य तिलक टर्मिनल एक्सप्रेस,मऊ-आनंदविहार एक्सप्रेस,मऊ-जोधपुर एक्सप्रेस, मऊ –बड़ोधरा एक्सप्रेस,मऊ-छपरा कचहरी पैसेंजर,मऊ-दोहरीघाट पैसेंजर,मऊ-प्रयागराज रामबाग पैसेंजर एवं शाहगंज पैसेंजर समेत कुल 44 सवारी/ मेल/एक्सप्रेस गाड़ियां संचालित हो रही है तथा यहाँ से लगभग 22000 यात्रियों का आवागमन प्रतिदिन होता है।अमृत स्टेशन योजना के अन्तर्गत मऊ रेलवे स्टेशन पर किये जा रहे उन्नयन एवं सुधार कार्यो में दो मंजिला स्टेशन विस्तृत भवन का निर्माण,नये पोर्च के निर्माण के साथ स्टेशन भवन के फसाड (मुखड़े) का सुन्दरीकरण कार्य में 300 वर्गमीटर पत्थर आवरण लगाने का कार्य पूर्ण हो चूका है शेष 2700 वर्गमीटर में पत्थर लगाने का काम प्रगति पर है । 700 मीटर लम्बे स्टेशन अप्रोच रोड (पहुंच मार्ग) में 300 मीटर रोड का चौड़ीकरण तथा 75 मीटर डिवाइडर का काम पूर्ण हो चूका है शेष कार्य प्रगति पर है । मऊ जं पर 60 मीटर प्लेटफार्म एक्स्टेंशन का कार्य 70 % पूरा हो चूका है तथा 10000 वर्गमीटर प्लेटफार्म सतह सुधार के कार्य में 1700 वर्गमीटर का कार्य पूर्ण हो गया है । सर्कुलेटिंग एरिया की दिशा में 450 मीटर की चारदीवारी का निर्माण पूरा हो गया है शेष 150 मीटर का निर्माण प्रगति पर है । प्लेटफार्मों पर 2700 वर्गमीटर पीपी शेल्टर के प्रावधान के साथ 80 % का निर्माण पूरा हो गया,800 पीपी की शीट के परिवर्तन का कार्य प्रगति पर है ।
इसके अतिरिक्त ट्रैफिक सर्कुलेशन में सुधार और सर्कुलेटिंग एरिया (5000 वर्ग मीटर) का सौंदर्यीकरण कार्य ,सौंदर्यपूर्ण, चौड़ा और अच्छी रोशनी वाला अग्रभाग/पोर्च सर्कुलेशन एरिया में सुधार। स्टेशन 10 वर्ग मीटर में दिव्यांगजन सुविधाओं वाले शौचालयों का प्रावधान का कार्य, विभिन्न श्रेणी के नये प्रतीक्षालयों स्टेशन का निर्माण , सभी प्लेटफार्मों पर नए प्लेटफार्म शेल्टर के प्रावधान के साथ नए सीओपी का निर्माण कार्य, नये (पुरुष /महिला एवं दिव्यांगजन) शौचालय का निर्माण,3000 वर्ग मीटर के पार्किंग क्षेत्र का निर्माण कर उसमें टू व्हीलर,थ्री व्हीलर एवं फोर व्हीलर पार्किंग का प्रावधान का कार्य, नई लिफ्ट/एस्केलेटर का प्रावधान के साथ 12 मीटर चौड़े पैदल उपरिगामी पुल (FOB) का निर्माण कार्य, 3500 वर्गमीटर प्लेटफार्म शेल्टरों का प्रावधान, स्टेशन पर अन्तर्राष्ट्रीय मानक के अनुरूप बेहतर साइनेज एवं फसाड लाइटिंग लगाने का कार्य प्रगति पर है। सभी निर्माण कार्यों को पूरा कर मऊ जं रेलवे स्टेशन को आकर्षक स्वरूप दिया जा रहा है ।
उपरोक्त कार्यों के पूर्ण हो जाने पर मऊ जं रेलवे स्टेशन पर रेल यात्रियों को जहाँ एक ओर उन्नत एवं आधुनिक यात्री सुख-सुविधाओं का लाभ मिलेगा वही दूसरी ओर रेल परिसर में प्रवेश करते ही उन्हें सुखद अनुभूति का एहसास होगा। शहरवासियों की सुविधा के लिए इस रेलवे स्टेशन को ‘सिटी सेन्टर’ के रूप में विकसित किया जायेगा।