July 13, 2024

राष्ट्र की परम्परा

हिन्दी दैनिक-मुद्द्दे जनहित के

सड़क के बीचो-बीच गड्ढा बड़ी दुर्घटना को दे रहा दावत

महराजगंज(राष्ट्र की परम्परा)। सरकार चाहे कितनी भी अच्छी क्यो न हो अगर उसका अनुपालन करने वाले कर्मचारी भ्रष्ट हों तो फिर सरकार की छवि धूमिल हो ही जाती है और उंगली सरकार पर उठने लगती है। कुछ इसी प्रकार का मामला सिंदुरिया महराजगंज एनएच 730 सड़क की है। इस सड़क पर पतरेंगवां के पास और बाबा होटल के सामने सड़क के बीच में बड़े- बड़े जानलेवा गड्ढे बन गये हैं जहां कितने राहगीर गिरकर चोटिल हो चुके हैं तो कइयों ने अपनी जिंदगी से हाथ धो लिया तथा कितनो ने अपने हाथ पैर भी गवा दिए हैं । ग्रामवासी पीयूष ,पप्पू यादव ,संतोष,हरिकेश, टुन्नू,संजय चौधरी,मिठाई आदि ग्रामीणों ने बताया कि महज 18 माह में ही एनएच 730 सड़क कई जगह टूट कर क्षतिग्रस्त हो गया है। कई बार रिपेयरिंग के नाम पर मिट्टी डालकर छोड़ दिया जाता जो वाहनों के आवागमन से पुनः पहले जैसा हो जाता है।आये दिन इस गड्ढे में राहगीर गिरकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर लेते है तो कइयों ने इन गड्ढों की वजह से अपने हाथ पैर गवां कर अपाहिज की जिंदगी जी रहे हैं।
सवाल यह है कि जीरो टॉलरेंस की नीति वाली सरकार अपने कर्मचारियों पर नकेल कब कसेगी जबकि सरकार द्वारा दावा किया जाता है कि प्रदेश में सड़कों की स्थिति बेहतर हो चुकी है। हालांकि यह सड़क नई तकनीक के आधार पर बनी है।