July 12, 2024

राष्ट्र की परम्परा

हिन्दी दैनिक-मुद्द्दे जनहित के

डीएम ने की बाढ़ नियंत्रण स्टीयरिंग कमेटी की बैठक

महराजगंज(राष्ट्र की परम्परा)। जिलाधिकारी की अध्यक्षता में बाढ़ नियंत्रण स्टीयरिंग कमेटी की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई।
बैठक में जिलाधिकारी ने बिंदुवार प्रमुख नदियों पर निर्मित तटबंधों की मरम्मत एवं रख-रखाव, आश्रय स्थलों की संख्या व व्यवस्था, बाढ़ सूचना तंत्र, बाढ़ चौकियों के निर्धारण, शहरी क्षेत्र में नालों की सफाई, गोताखोरों एवं नावों की संख्या, राहत सामग्री, पशुओं के चारे की व्यवस्था आदि की जानकारी ली।
उन्होंने बिंदुवार बाढ़ नियंत्रण और प्रबंधन तैयारियों की समीक्षा करते हुए सोहगीबरवां क्षेत्र में स्थित गांवों में बाढ़ प्रबंधन पर विशेष जोर देने का निर्देश दिया।
महाव नाला एवं अन्य तटबंधों पर संवेदनशील बिंदुओं की सतत निगरानी का निर्देश दिया। उन्होंने बाढ़ चौकियों और आश्रय स्थलों पर सभी आवश्यक इंतजाम सुनिश्चित करते हुए सक्रिय करने का निर्देश दिया। आपूर्ति विभाग और पशुपालन विभाग को लोगों के लिए भोजन और पशुओं के लिए चारे आदि की व्यवस्था को सुनिश्चित करने और आश्रय स्थलवार नोडल अधिकारी नामित करने का निर्देश दिया। डिप्टी सीवीओ डॉ विनोद कुमार विश्वकर्मा ने बताया कि 11 वीओ को बाढ़ चौकियों के लिए और 04 डिप्टी सीवीओ को तहसीलवार नोडल अधिकारी नामित कर दिया गया है। जिला पूर्ति अधिकारी ए.पी. सिंह ने बताया कि विभिन्न विकास खंडों में निर्मित 29 बाढ़ चौकियों पर नोडल अधिकारी नामित कर दिए गए हैं। उन्होंने डीपीआरओ को पर्याप्त संख्या में नावों की उपलब्धता सुनिश्चित करने हेतु निर्देशित किया। एआरटीओ को बाढ़ क्षेत्र के लिए आवश्यक वाहनों को आरक्षित करने का निर्देश दिया।
उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया कि बाढ़ के दृष्टिगत आश्रय स्थलों पर मेडिकल टीमों को तैनात करें और साथ ही सभी जरूरी दवाओं की उपलब्धता को भी विभाग सुनिश्चित करे। एसडीएम को तटबंधों के निरीक्षण और तहसील स्तर पर बाढ़ समितियों को सक्रिय करने का निर्देश दिया। उन्होंने ग्राम सचिवों, लेखपालों, बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के विद्यालयों के अध्यापकों,शिक्षामित्रों, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों, आशा आदि को संवेदित करने के लिए भी कहा। उन्होंने जनपद स्तर पर कंट्रोल रूम को भी सक्रिय करने का निर्देश दिया। नगरीय और ग्रामीण क्षेत्रों में नालों व नालियों की नियमित सफाई का भी निर्देश दिया, ताकि जल जमाव की समस्या न होने पाए।
इस दौरान अपर जिलाधिकारी डॉ पंकज कुमार वर्मा, एसडीएम सदर रमेश कुमार, अधीक्षण अभियंता विद्युत वाई.पी. सिंह, डीएसओ ए.पी. सिंह सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहें।