July 25, 2024

राष्ट्र की परम्परा

हिन्दी दैनिक-मुद्द्दे जनहित के

सीडीओ की अध्यक्षता में जिला पोषण समिति की बैठक सम्पन्न

देवरिया (राष्ट्र की परम्परा)। मुख्य विकास अधिकारी प्रत्यूष पाण्डेय की अध्यक्षता में जिला पोषण समिति की बैठक विकास भवन के गांधी सभागार में आयोजित की गयी। बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी कृष्ण कान्त राय ने विभागीय योजनाओं की प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की।   
         जिला कार्यक्रम अधिकारी ने अवगत कराया कि समूह द्वारा टीएचआर प्लान्ट्स से पोषाहार आपूर्ति विगत वर्ष से ही लम्बित है। डीसी एनआरएलएम आलोक कुमार पाण्डेय ने इस सम्बन्ध में सम्बन्धित टीएचआर प्लान्ट्स के बीएमएम को आने वाले परेशानियों को तत्काल दूर करते हुए अविलम्ब आपूर्ति करने का निर्देश दिया। 
       मुख्य विकास अधिकारी ने मुख्यालय स्तर पर समाधान की जाने वाली समस्याओं के सम्बन्ध में पत्र प्रेषित कराने के निर्देश डीसी एनआरएलएम को दिये। उन्होंने डीसीएनआरएलएम को आकांक्षात्मक विकास खण्ड गौरी बाजार में 04 से 06 जुलाई के मध्य सम्पूर्णता अभियान हेतु पोषाहार की आपूर्ति नियमित कराने के निर्देश दिये।
           लर्निंग लैब की समीक्षा में पाया गया कि समस्त विकास खण्डों में एक या दो ग्राम पंचायतों में कार्य आरम्भ नही हुआ है। इसकी सूची तैयार करते हुए जिला पंचायत राज अधिकारी के माध्यम से अनुस्मारक पत्र प्रेषित करने हेतु निर्देशित किया गया। नये भवनों के निर्माण में समस्त मानकों के साथ ही ब्लैक बोर्ड एवं जीएमडी उपयोग हेतु हुक लगवाने के निर्देश बाल विकास परियोजना अधिकारी व मुख्य सेविकाओं को दिये गये। 2024 में स्वीकृत 51 भवनों पर कार्य आरम्भ कराने हेतु डीसी मनरेगा एवं जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित किया गया। हाट कुक्ड मील के सम्बन्ध में आ रही समस्याओं के सम्बन्ध में विवरण 03 कार्य दिवस में प्रस्तुत करने हेतु बाल विकास परियोजना अधिकारियों को निर्देशित किया गया। समस्याओं के सम्बन्ध में जिला पंचायत राज अधिकारी एवं लीड बैंक मैनेेजर के माध्यम से कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया। डेस्कटाप आधारित आधार किटों को संचालित करने हेतु समस्त ब्लाक कॉडिनेटर को आधार परीक्षा उत्तीर्ण कराने हेतु कार्यवाही सम्पन्न कराने हेतु सीडीपीओ को निर्देशित किया गया। पोषण ट्रैकर में वजन लम्बाई की फीडींग में जनपद की रैंकिंग 08वी, होम विजिट में 14वीं, आधार वेरिफिकेशन में 15वीं एवं आंगनबाड़ी केन्द्र खोलने में 14वीं पायी गयी। इसमें सुधार करने हेतु निर्देशित किया गया। 
        बाल विकास परियोजना अधिकारी गौरी बाजार को अपनी परियोजना की आंगनबाड़ी कार्यकत्री का केपीआई के आधार पर मूल्यांकन करते हुए अधिकतम अंक प्राप्त करने वाली 10 कार्यकत्रियों को पुरस्कृत करने के लिये सूची प्रस्तुत करने हेतु निर्देशित किया गया। सामुदायिक आधारित गतिविधियों के सम्बन्ध में कार्यवाही रजिस्टर बनाने एवं उसमें विवरण अंकित कराने के निर्देश दिये गये। सम्भव अभियान के अन्तर्गत सैम बच्चों का चिन्हांकन कराते हुए ई-कवच ऐप पर पंजीकरण एवं दवा वितरण कराने के निर्देश दिये गये। डीसीपीएम राजेश गुप्ता के के माध्यम से समस्त एएनएम और सीएचओ की ई-कवच पर यूजर आईडी एवं पासवर्ड निर्गत कराने हेतु निर्देशित किया गया। आरबीएसके टीम व प्रभारी चिकित्सा अधिकारी सीएचसी/पीएचसी के माध्यम से पोषण पूनर्वास केन्द्र में भर्ती कराये जाने हेतु निर्देशित किया गया। 
          बाल विकास परियोजना अधिकारियों द्वारा ग्रोथ मानिटरिंग डिवाईस के खराब होने के सम्बन्ध में अवगत कराया गया। इस सम्बन्ध में वीएचएसएनसी फण्ड से क्रय की कार्यवाही करने तथा सीएसआर से प्रस्ताव प्रेषित किये जाने के सम्बन्ध में अद्यतन सूचना 03 कार्यदिवस में प्रस्तुत करने हेतु बाल विकास परियोजना अधिकारी गणों को निर्देशित किया गया। शौचालय निर्माण हेतु नामित कार्यदायी संस्था पीसीसीडी एवं आरईडी को समस्त कार्य एक माह में पूर्ण करने एवं 14 इंच का पैन साईज उपयोग करने का निर्देश दिया गया।  उपस्थित बाल विकास परियोजना अधिकारी एवं मुख्य सेविका को बीएसपीएम के अन्तर्गत वीएचएसएनडी सत्रों की मॉनिटरिंग आन लाईन पोर्टल पर अनिवार्य रूप से करने हेतु निर्देशित किया गया। परियेाजना कार्यालय निर्माण हेतु बाल विकास परियोजना अधिकारी को प्रस्ताव प्राप्त करने हेतु निर्देशित किया गया।
          बैठक में  डीसी मनरेगा/एनआरएलएम आलोक पाण्डेय, स्वेता, सहायक अभियन्ता, ग्रामीण अभियन्त्रण विभाग, एसीएमओ संजय कुमार, यूनीसेफ से सुरेश तिवारी, कमलेश पाण्डेय एवं अन्य अधिकारीगण तथा मुख्य सेविकायें उपस्थित रहे।