July 24, 2024

राष्ट्र की परम्परा

हिन्दी दैनिक-मुद्द्दे जनहित के

अपराध एवं अपराधियों पर नकेल डालने में विफल क्यों है देवरिया जिले की:बनकटा पुलिस

भाटपार रानी/देवरिया
(राष्ट्र की परम्परा)

उत्तर प्रदेश के देवरिया जिला स्थित भाटपार रानी तहसील के अंतर्गत स्थानीय बनकटा थाना क्षेत्र की पुलिस वर्तमान समय में बनकटा थाने में तैनात अपने थाना प्रभारी के कार्य काल में अपराध एवं अपराधियों पर नकेल डालने में पूरी तरह से नाकाम साबित हो रही है।
प्राप्त समाचार के मुताबिक बनकटा थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले पुलिस ग्रामों में तैनात अधिकांश ग्राम चौकीदार अवैध शराब तस्करी सहित नाबालिक लड़कियों को भगाने के गतिविधि में खुद या इनके परिवार जन सामिल पाए जा रहे हैं।किंतु फिर भी जिले के आखरी छोर पर स्थित यूपी बिहार बार्डर सीमा के बनकटा थाना की पुलिस अपराध कर्मियों पर अपना लगाम लगा पाती बजाए इसके इनके खुद के ही थाने में तैनात खुदके ग्राम चौकीदार ही के भाई के घर से ही लगातार तीसरी बार तस्करी का माल दारू आदि चौकीदार/भाई के घर के अन्दर से बार बार बरामद हो रहा है।
अभी जो प्रकाश में आया है उसके मुताबिक गत बुधवार को स्थानीय बनकटा पुलिस के द्वारा अपने ही थाने में तैनात एक चौकीदार के भाई के घर से लगातार तीसरी बार तस्करी के दारू एवं दारू सप्लाई करने वाले सप्लायर की गिरफ्तारी की गई है। यह मामला थाना क्षेत्र के एकडंगा चौराहे के समीप का बताया जा रहा है जहां एक चौकीदार के पुराने घर से तीसरी बार गिरफ्तार किए गए यह सभी तस्कर बिहार के बताए गए हैं। जिनमें 1/शत्रुघन कुमार पुत्र सुनील महतो साकिम रघुनन्दन पुर थाना फुलवरिया गोपाल गंज बिहार उम्र करीब 26 वर्ष,2/अजय कुमार पुत्र सूबेदार राय साकिम भगवानपुर थाना भगवानपुर सदर जिला मुजफ्फरपुर बिहार उम्र करीब 36 वर्ष,3/रोहित रंजन पुत्र लाल बाबू राय ग्राम गाढ़ा हसन थाना पारू जिला मुजफ्फरपुर बिहार उम्र करीब 38 वर्ष, बताया गया है। वहीं ददन यादव पुत्र भोला यादव के मकान से मारुति वैगन आर कार सहित जिसका नम्बर बीआर 31 एबी 0764 है के साथ कुल 11 पेटी माल व 39 पाउच वहीं 567 ऑफिसर चॉइस अंग्रेजी अवैध शराब प्रत्येक 180 एमएल कुल 102 लीटर 60 एम एल अवैध अंग्रेजी शराब सहित गिरफ्तारी दिखाया है जबकि सूत्रों का कहना कुछ और ही है।
अब सवाल यह उठता है कि जब एक ही चौकीदार के भाई के घर से तस्करी की बात जब लगातार तीसरी बार सामने आई है। जो निरंतर थाने की गतिविधि से अवगत है। साथ ही बिहार राज्य के सभी तस्कर गिरफ्तार हुए हैं जिनमें एक भी उत्तर प्रदेश से नहीं हैं। फिर थाने के चौकीदार के भाई का अंतरप्रांतीय गैंग किसके सह पर लगातार तस्करी में संलिप्त हैं। क्या वर्तमान थाना प्रभारी द्वारा चौकीदार के विरुद्ध कोई विभागीय कार्यवाही की संस्तुति कभी की गई है यदि की गई तो तस्करी क्यों नहीं रुक रही है। यदी नहीं तब चौकीदार एवं उसके भाई पर कोई कार्यवाही नहीं की गई है तो क्यों नहीं की गई है। बताते चलें इसके अलावे पूर्व में भी कई सारे चौकीदार के परिजन नाबालिक लड़कियों को भगाने के मामले में आरोपी रहे हैं।
दारू तस्करी में गिरफ्तार सभी अभियुक्त जनों को थाना प्रभारी बनकटा, एवं वरिष्ठ उप निरीक्षक जयप्रकाश दुबे की टीम द्वारा गिरफ्तार किए जाने की खबर है।
बताते चलें पूर्व में थाने के चौकीदार के यहां से नाबालिक लड़की बरामद भी पूर्व के थाना प्रभारी कर चुके हैं।