July 16, 2024

राष्ट्र की परम्परा

हिन्दी दैनिक-मुद्द्दे जनहित के

कीचड़ युक्त रास्ते से आवागमन बाधित, ग्रामीण उग्र

इंटरलॉकिंग न होने पर ग्रामीणों का फूटा गुस्सा, जमकर किया प्रदर्शन

महराजगंज (राष्ट्र की परम्परा)। निचलौल ब्लॉक के ग्राम पंचायत ठूठीबारी टोला मरचहवां में खड़ंजा निर्माण के लिए गांव के लोग पिछले कई सालों से अधिकारियों के कार्यालय और जनप्रतिनिधियों की परिक्रमा कर रहे हैं लेकिन उनकी सुनवाई नहीं हो सकी। और अब तक खड़ंजे का निर्माण नहीं कराया जा सका। जिसके कारण स्थानीय लोगो को बारिश में दुश्वारियों का सामना करना पड़ रहा है। ग्रामीणों का आरोप है कि इंटरलॉकिंग निर्माण को लेकर ग्राम प्रधान को कई बार अवगत कराया गया लेकिन उनके द्वारा झूठा आश्वासन देकर मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया जाता है।
स्थानीय ग्रामीण भल्लू अंसारी ने ग्राम प्रधान पर आरोप लगाते हुए कहा कि मरचहवां टोले के कीचड़ भरे रास्ते के निर्माण को लेकर कई बार आश्वासन दिया जा चुका है लेकिन सिर्फ मिट्टी गिराकर लाखो रुपए का भुगतान कराकर खड़ंजे का निर्माण कार्य अब तक नहीं कार्य गया है।
सुमित्रा देवी ने बताया कि खड़ंजा निर्माण कार्य नही होने से बहुत परेशानी हो रही है, पानी और कीचड़ से सराबोर रास्ते से होकर गुजरना पड़ रह है। बच्चों के गिरने और चोट लगने का भय हमेशा बना रहता है।
सुभाष मिस्त्री ने ग्राम प्रधान पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि स्थानीय जनप्रतिनिधि की उदासीनता के कारण विगत कई वर्षों से हम ग्रामवासी नारकीय जीवन जीने को मजबूर है। इंटरलॉकिंग निर्माण के लिए बजट स्वीकृत होने बाद भी निर्माण कार्य नही कराया जा रहा है। ऐसी स्थिति में ग्रामीणों का गुस्सा तब फूट पड़ा जब
मानसून की पहली बरसात में कीचड़ से सराबोर रास्ता अवरुद्ध हो गया। ग्रामीणों ने संबंधित उच्चाधिकारियों से मांग की है कि इंटरलॉकिंग का निर्माण अविलंब कराया जाय अन्यथा आंदोलन और धरना प्रदर्शन के लिए बाध्य होंगे। इस दौरान अनवर, गोधन, नागेंद्र, नरेश, गया, घिसियावन, सिनोद, मीरा देवी, मेवाती, रकीबुन, साहिल, नबी रसूल, इरशाद, छेदी सहित दर्जनों ग्रामीण मौजूद रहें।