July 25, 2024

राष्ट्र की परम्परा

हिन्दी दैनिक-मुद्द्दे जनहित के

नशे की बढ़ती लत से युवाओं का भविष्य अंधकारमय

नशे के सौदागरों के खिलाफ राजाभाऊ सोनटक्के ने कड़क कानून बनाने की मांग की

मुंबई (राष्ट्र की परम्परा)
आज मुंबई उपनगर की अनेक झोपड़पट्टियों में नशीली दवाओं की बिक्री धड्डल्ले से शुरू है। यही नहीं नशीली दवाओं के कारण युवा पीढ़ी का भविष्य अंधकारमय होता जा रहा है। ऐसे में कैंसर से अधिक घातक होती जा रही नशे की बीमारी पर लगाम लगाने के लिए सामाजिक संस्थाओं, शैक्षणिक संस्थानों राजनीतिक दलों को विशेष रूप से युद्ध स्तर पर अभियान चलाने की जरूरत है । इसके अलावा नशे के सौदागरों और नशीली दवाओं को बेचने वालों के खिलाफ सरकार और पुलिस कड़क कानून बनाए ऐसी मांग राष्ट्रीय बजरंग दल कोकण प्रांत के उपाध्यक्ष राजा भाऊ सोनटक्के ने की है|
बता दें कि बुधवार 26जून को अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्ति दिवस मनाया गया । इस अवसर पर राष्ट्रीय बजरंग दल कोकण प्रांत के उपाध्यक्ष राजा भाऊ सोनटक्के ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि नशे की बढ़ती लत के कारण अनेकों युवाओं का भविष्य अंधकारमय होता जा रहा है। यहां तक कि स्कूल, कॉलेज के आस पास नशीली दवाओं की बिक्री धड़ल्ले से हो रही है। ऐसे में शैक्षणिक संस्थानों, अभिभावको की नैतिक जिम्मेदारी है कि अपने बच्चों पर विशेष रूप से ध्यान दें। क्योंकि नशे के दुष्परिणाम से सिर्फ नशा करने वाला ही बरबाद नहीं होता है बल्कि समुचा परिवार और समाज बरबादी की कगार पर पहुंच जाता है। सोनटक्के इस बात पर जोर देते हुए कहा कि सिर्फ 26 जून को अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्ति दिवस मनाने से ही काम नहीं चलेगा बल्कि नशा मुक्ति के लिए सामाजिक संस्थाओं, शैक्षणिक संस्थानों को हर दिन बच्चों में जनजागरुकता अभियान चलाने की जरूरत है। उन्होंने बताया कि पूर्वी उपनगर के साकीनाका, घाटकोपर, पवई, कुर्ला, मानखुर्द और गोवंडी की झोपड़पट्टियों में बड़े पैमाने पर नशीली दवाएं एम. डी., बटन, भांग, चरस बेचने वालों का गिरोह सक्रिय है। ऐसे में सरकार और पुलिस नशे के सौदागरों के खिलाफ व्यापक धरपकड़ अभियान चलाकर उनके खिलाफ कड़क से कड़क कानून बनाने की कवायद करे ऐसी मांग राष्ट्रीय बजरंग कोकण प्रांत के उपाध्यक्ष राजा भाऊ सोनटक्के ने की है।