July 16, 2024

राष्ट्र की परम्परा

हिन्दी दैनिक-मुद्द्दे जनहित के

मतदाताओं ने मतदान का सामुहिक बहिष्कार किया

बरहज/देवरिया(राष्ट्र की परम्परा)
लोक सभा बांसगांव विधानसभा बरहज के अर्न्तगत ग्राम नवापार, पोस्ट नवापार के सभी ग्रामीणों ने लोकसभा मतदान का सामूहिक बहिष्कार करने का निर्णय लिया है। ग्रामीणों का कहना है कि आजादी से लेकर अब तक कोई मार्ग नहीं बना है जिससे कि हम लोग अपने गांव पहुंच सके, हर वर्ष हम लोग बाढ़ की पानी से चारों तरफ से घिर जाते है। गांव में आने के लिए मार्ग न होने के कारण 4 किलोमीटर घूम करके हम लोगों को गांव में आना जाना पड़ता है। गांव में प्राथमिक विद्यालय नहीं है, गांव के छोटे-छोटे बच्चे घर से चार किलोमीटर पैदल चलकर रेलवे लाइन से उत्तर प्राथमिक विद्यालय में विद्या अध्ययन करने जाते हैं।

लोगों का कहना है कि इस तेज धूप में छोटे-बड़े विद्यार्थी चार किलोमीटर पैदल व रेलवे लाइन पार कर पढ़ने जाते है जिससे कभी भी रेल मार्ग पर कोई अनहोनी हो सकती है। पिछले वर्ष बाढ़ के समय दो बच्चे डूब कर मर गए थे। लेकिन सांसद या प्रशासन का कोई भी व्यक्ति पूछने तक नहीं आया। लोगों का कहना है कि विगत 15 वर्षों से भारतीय जनता पार्टी के सांसद कमलेश पासवान है, लेकिन अब तक कोई विकास कार्य गांव का नहीं हुआ इसको लेकर कई बार सांसद से वार्ता भी हुई। मनोज सिंह के नेतृत्व में समस्त ग्रामीणों ने यह निर्णय लिया हैं कि आने वाले लोकसभा 2024 के चुनाव के मतदान का सामूहिक रूप से बहिष्कार करेंगे । सड़क नहीं तो वोट नहीं। इस दौरान सुमित सिंह, उत्कर्ष सिंह, विकास यादव, रुदल यादव ,संग्राम सिंह, सतीश जायसवाल, अनिल सिंह, पिंटू यादव, नेता चौहान, छेदी चौहान, चंदन कुशवाहा, दिनेश तिवारी, सहित समस्त ग्रामवासीयो ने एक स्वर में मतदान का बहिष्कार करेंगे, जब तक गांव की समस्या का समाधान नहीं हो जाता है तब तक मतदान नहीं करेंगे।