July 25, 2024

राष्ट्र की परम्परा

हिन्दी दैनिक-मुद्द्दे जनहित के

सशस्त्र सीमा बल द्वारा योग थीम के अन्तर्गत योगा शिविर का आयोजन किया

बहराइच (राष्ट्र की परम्परा) । दस वें अन्तर्राष्ट्रीय योगा दिवस के उपलक्ष्य में 59वी वाहिनी सशस्त्र सीमा बल द्वारा ‘स्वयं और समाज के लिए योग’ थीम के अन्तर्गत योगा शिविर का आयोजन किया गया जिसमें कमान्डेंट कैलाश रमोला के नेतृत्व में 59वी वाहिनी सशस्त्र सीमा बल द्वारा अगामी दस वें अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में “स्वयं और समाज के लिए योग” थीम के अन्तर्गत वाहिनी परिसर एवं वाहिनी के अधीनस्थ सीमा चौकियों में योगा अभ्यास का आयोजन कराया गया। वाहिनी के समस्त अधिकारी व कार्मिको ने बढ़-चढ़ कर भाग लिया,इस अवसर पर कमान्डेंट 59वीं वाहिनी ने जवानों को अन्तर्राष्ट्रीय योगा दिवस के संशिप्त इतिहास के बारे में अवगत कराया कि योग हमारे सांस्कृति एवं जड़ो से जुड़ा हुआ है, यह एक शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक अभ्यास है, जिससे हम अपना स्वस्थ्य एवं खुशहाल जीवन बना सकते है और हमें प्रतिदिन योगा करना चाहिए जिससे हम अपने अन्दर होने वाले अनेक बिमारियों से दूर रह सकते हैं ।उल्लेखनीय है कि सशस्त्र सीमा बल भारत सरकार के दिशा निर्देश के अनुरूप भारत-नेपाल व भारत – भूटान की कुल 2450 किलोमीटर सीमा के साथ सीमांत क्षेत्रों में रहने वाली ग्रामीणों एवं शहरी जनता, छात्र व छात्राओं एवं गैर लाभकारी संगठनों के साथ मिलकर योग को घर-घर तक पहुँचाने के लिये निरन्तर अथक प्रयास कर रही है। इस कार्यक्रम के दौरान शेखर बजाज उप कमान्डेंट, अभिनव कश्यप उप कमान्डेंट, हिमांशु दुबे उप- कमान्डेंट, डॉ विकास कुमार सिंह उप कमांडेंट पशु चिकित्सा के साथ समस्त अन्य बलकार्मिक उपस्थित रहे।