July 25, 2024

राष्ट्र की परम्परा

हिन्दी दैनिक-मुद्द्दे जनहित के

कुर्ला एल विभाग मनपा मे विधि खाते के भ्रष्ट कायदा अधिकारी गजानन गिरी का ट्रांसफर,

एल विभाग मनपा में भेजे गए नए कायदा अधिकारी अरविंद राठोड!

क्या एल विभाग मनपा के एल-1से एल -4 तक के 16 प्रभागो मे कॉरोना काल से स्थगन आदेश प्राप्त अवैध निर्माणों को बोर्ड पर ला कर करवाएंगे तोडक कारवाई..??

मुंबई(राष्ट्र की परम्परा)
कुर्ला एल/ विभाग मनपा विधि खाते मे दिनांक -5/6/2024 को नवनियुक्त कायदा अधिकारी अरविंद राठोड की नियुक्ती हुई है क्या यह अधिकारी आम जनता के विश्वास पर खरे उतर पाएंगे…?? या फिर एल विभाग मनपा के विधि विभाग मे जैसा अब तक होता आया है “अवैध निर्माणकर्ताओं व भूमाफियाओ का साथ अपना विकास” के तर्ज पर ही कार्य करते हुए अपना थैला भरेंगे…?? वैसे अब तक विधि विभाग मे आए बहुत कम ही कायदा अधिकारीयो ने ईमानदारी पूर्वक अपना कार्य किया अन्यथा वे जाते जाते दाग अवश्य ले गए हैं…अर्थात वे आम जनता के विश्वास पर खरे उतरने मे नाकाम ही साबित हुए…!! बता दें कि जब विभाग मे किसी नए कायदा अधिकारी की नियुक्ति होती है तो आम जनमानस में यह विश्वास जगता है कि ये तो जरूर ही विभाग मे अवैध निर्माणों को कोर्ट स्थगन ना मिले इस पर लगाम लगाते हुए मूल विकास पर जोर देंगे किंतु होता उसका उलट है, वह मूल विकास को दरकिनार कर अवैध विकास को बढ़ावा देने मे लग जाते हैं…जिससे विभाग का विकास तो नही होता किंतु उनका स्वयं का विकास जरूर हो जाता है…!! ऐसा ही कुछ भ्रष्ट कायदा अधिकारी गजानन गिरी का भी कार्यकाल रहा…!! इन्होने तो एल विभाग मनपा के 16 प्रभागो मे भ्र्ष्टाचार की एक मिशाल कायम कर गये है, वह अपने कार्यकाल के दौरान कोरोना काल से ही एल विभाग मनपा मे हो रहे शासकीय भुखंड के सभी अवैध नवनिर्माणो को बनावटी कागज पत्र के आधार पर स्टे कॉप्स दिलाने मे बडा सहयोग प्रदान किया है।
इन्होने सभी भूमाफियाओ ,अवैध निर्माणकर्ताओं व ठेकेदारो से मिलकर कई करोड के मनपा के महसूल को डुबा दिया है..!!

सुत्रो से ज्ञात जानकारी अनुसार हाल मे ही प्रभाग -168 के क्षेत्र महाराष्ट्र कांटा स्थित मोहम्मदी कम्पाऊंड मे भूमाफिया गुलाम मुन्ना सेठ कम्पाऊंड मे रामवर्मा सुन्नी मुस्लिम कब्रस्तान के बगल मे मोहम्मद हनिफ अजमेरी व सर्वेश्वर मंदिर के पिछे नरीमन हाऊस रहमान द्वारा करोड़ों रुपयों के राजस्व (महसूल)को डुबाते हुए कई लाख स्के. फिट मे प्रचंड गेस्ट हाऊस व गोडाऊन के अनधिकृत नवनिर्माण हुए तथा जारी भी है किंतु गजानन गिरी को इतना साहस कहां था की वे उन अवैध निर्माणों को कोर्ट ऑफ कँटेम्पट कैव्हीट दाखल कर ध्वस्त कर पाते..!! इसके पीछे मुख्य कारण जो वे अवैध निर्माणकर्ताओं भूमाफियाओ व ठेकेदारो से याराना कर बैठे थे..!!

अब देखना यह बड़ा दिलचस्प होगा कि क्या नवनियुक्त कायदा अधिकारी अरविंद राठोड ईमानदारी पूर्वक जनहित मे कार्य कर कोर्ट स्थगन के आड़ मे पेंडिंग सभी अवैध नवनिर्माणो की फाईल बोर्ड पर ला कर रिप्लाय फाईल कर भूमाफियाओ का कमर तोडने का कार्य करेंगे या फिर गजानन गिरी के ही कदमों पर चल कर अपना कार्यकाल पूरा करेंगे….??
दैनिक राष्ट्र की परम्परा समाचार पत्र ऐसे ही एल विभाग मनपा मे चल रहे भ्रष्टाचार अनिमियता भ्रष्ट अधिकारियो के कार्यो की खबरो को प्रमुखता से प्रकाशित करता रहेगा और भ्रष्टाचार पर अंकुश लग सके ऐसे खबरो का लगातार चयन करता रहेगा।