July 24, 2024

राष्ट्र की परम्परा

हिन्दी दैनिक-मुद्द्दे जनहित के

परिश्रम ही सफलता की कुंजी है: उमाकांत चौधरी

महराजगंज (राष्ट्र की परम्परा)। किसी भी विद्यार्थी की सफलता के पीछे उनके अभिभावकों और उनके शिक्षकों का ही हाथ होता है। परिश्रम ही सफलता की कुंजी है। यदि छात्र लगनशील और परिश्रमी है तो उसे घर से लेकर शिक्षण संस्थान तक प्रोत्साहन और मार्गदर्शन मिलता है। ऐसे ही छात्र-छात्राएं ऊंचे मुकाम को हासिल कर अपने देश, समाज व विद्यालय का नाम रोशन करते हैं। उक्त बातें परतावल विकास खंड के धर्मपुर स्थित सरस्वती शिशु ज्ञान मंदिर आदर्श शिक्षण संस्थान में मंगलवार को मेधा सम्मान समारोह में नवोदय विद्यालय में चयनित तीन मेधावियों श्रेयांस, आयुष व शहजाद मेधावियों को सम्मानित करते हुए विद्यालय के प्रबंधक उमाकांत चौधरी ने कही।

इस दौरान राम नारायण चौधरी, मोहम्मद, संजय वर्मा, रविंद्र प्रजापति, महातम विश्वकर्मा, सुजीत शर्मा, अनिरुद्ध चौधरी, अब्दुल ओहाब, शंभू गुप्ता, शिवम चौधरी, सुषमा, पूनम, परवीन, नीरज आदि शिक्षक मौजूद रहें।