July 16, 2024

राष्ट्र की परम्परा

हिन्दी दैनिक-मुद्द्दे जनहित के

छत्तीसगढ़ मॉब लिंचिंग घटना में मारे गए युवकों के परिजनों को न्याय दिलाने की कांग्रेसियों ने की मांग सौंपा ज्ञापन

छत्तीसगढ़ के रायपुर में हुई मॉब लिंचिंग की घटना

सलेमपुर/देवरिया(राष्ट्र की परम्परा)। छत्तीसगढ़ के महासमुंद व रायपुर की सीमा पर यूपी के सहारनपुर निवासी तीन युवकों की मॉब लिंचिंग की घटना में हुई मौत के बाद पीड़ित परिवार के लोगों को उचित न्याय दिलाने की मांग को लेकर अल्पसंख्यक कांग्रेस के जिलाध्यक्ष बदरे आलम के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रपति को सम्बोधित ज्ञापन उपजिलाधिकारी के अनुपस्थिति में नायब तहसीलदार गोपाल जी को सौंप कर न्याय दिलाने की मांग की। इस दौरान सम्बोधित करते हुए बदरे आलम ने कहा कि भीड़ द्वारा इन युवाओं की निर्मम हत्या कर दी गई, लेकिन छत्तीसगढ़ सरकार ने अब तक अपराधियों की गिरफ्तारी नहीं किया है, अपराधी खुलेआम घूम रहे हैं।इनको जल्द गिरफ्तार किया जाय। जिला महासचिव डॉ धर्मेन्द्र पाण्डेय ने कहा कि युवाओं की हत्या के मुकदमे में धारा 302 के बजाए 304 में दर्ज कर मुकदमे को कमजोर किया जा रहा है। इसे 302 में दर्ज किया जाए। ब्लॉक अध्यक्ष मार्कण्डेय मिश्र ने कहा कि मरने वाले परिवार के लोगों को उचित मुआवजा दिया जाय व पीड़ित परिवार के एक सदस्य को नौकरी दिया जाए। ज्ञापन सौंपने वालों में जिला महासचिव लालसाहब यादव, प्रेमलाल भारती,सूच्च्नन खान,डॉ याहिया अंजुम, शिवशंकर गौतम, डॉ नरेन्द्र यादव, गंगासागर मिश्र, एकराम अहमद, मो हफीज, मोहम्मद किताबुद्दीन अंसारी, मोहम्मद यासीन अंसारी, मकसूद अहमद,राकेश कुमार, आदि प्रमुख रूप से शामिल रहे।