July 16, 2024

राष्ट्र की परम्परा

हिन्दी दैनिक-मुद्द्दे जनहित के

तथागत गौतम बुद्ध जी की 2568 वीं जयंती (वैशाखी बुद्ध पूर्णिमा) पर भव्य शोभा यात्रा

देवरिया/ (राष्ट्र की परम्परा)।
पूरा विश्व भगवान बुद्ध के आगे नतमस्तक है,
और सम्पूर्ण विश्व अगर भारत देश को जनता है और मानता है तो वो सिर्फ और सिर्फ तथागत गौतम बुद्ध की ही वजह से।

इसीलिए भगवान तथागत बुद्ध को Light of Asia कहा जाता है,
ये हम भारतवासियों का सैभाग्य है की तथागत बुद्ध की कर्म स्थली ,ज्ञान स्थली और परिनिर्वाण स्थली भी भारत ही रहा है,जब भी हमारे देश के राष्ट्रपति या प्रधानमंत्री विदेश जाते हैं तो उनका स्वागत बुद्ध की मूर्तियां देकर और आप बुद्ध की धरती से आएं हैं ये कहकर होता है,ये हम भारतवासियों के लिए गौरव की बात है।

सम्पूर्ण विश्व को मैत्री करुणा एवं मानवता का संदेश देने वाले महामानव आदि वैज्ञानिक तथागत गौतम बुद्ध जी की 2568 वीं जयंती (वैशाखी बुद्ध पूर्णिमा) को त्रिविधि पूर्णिमा कहते हैं वैशाखी पूर्णिमा को ही तथागत गौतम बुद्ध जी का जन्म हुआ ।


वैशाखी पूर्णिमा को ही तथागत गौतम बुद्ध जी को ज्ञान की प्राप्ति हुई ।
एवं वैशाखी पूर्णिमा को ही तथागत गौतम बुद्ध का महापरिनिर्वाण हुआ । इसीलिए इस दिन को त्रिविधि पूर्णिमा या बुद्ध पूर्णिमा भी कहते हैं।
सम्पूर्ण जगत में वैशाखी बुद्ध पूर्णिमा का बहुत ही महत्व हैं।विकसित देशों के साथ साथ सम्पूर्ण विश्व के विकासशील देशों में भी बुद्ध पूर्णिमा को बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है। 2568 वीं त्रिविधि पावनी पूर्णिमा वैशाखी बुद्ध पूर्णिमा के शुभ अवसर पर आनन्द बुद्ध विहार लंगड़ी देवरिया देवरिया खास से भव्य शोभायात्रा गांजे बाजे के साथ निकाली गई जिसमें हजारों की संख्या में लोग शामिल हुए जो आनन्द बुद्ध विहार से भगवान चौराहा, हनुमान मंदिर ,शुगर मिल ग्राउंड, कोऑपरेटिव चौराहा ,हनुमान मंदिर, कुशवाहा द्वारा से होते हुए पुनः आनन्द बुद्ध विहार पर हाथी घोड़े,ढोल बाजों के साथ सैकड़ों लोगों ने बहुत ही खूबसूरत शोभा यात्रा का रूप देते हुए कार्यक्रम को बिना की विवाद के पूरा किया।
शोभा यात्रा में आगे आगे समाजवादी पार्टी के राजेन्द्र कुमार मौर्य, हृदयानंद जायसवाल,ओपी मौर्य,प्रेम कुशवाहा, चंद्रमोहन सिंह,जय प्रकाश कुशवाहा, शिवानंद कुशवाहा, आनंद कुशवाहा,सुजीत कुशवाहा, शंभू कुशवाहा,विशाल, एस के कुशवाहा,भंडारे के साथ कार्यक्रम भलि भांति समापन हुआ।